Bijasan Mata Temple Indore

बिजासन माता मंदिर इंदौर :
इंदौर बिजासन माता मंदिर का इतिहास लगभग एक हजार साल पुराना है, माना जाता हे की यहां देवी के नौ स्वरूप(प्रतिमा) विराजमान हैं। पुराने ज़माने में यहाँ पर काले हिरणों का जंगल था, यहाँ जंगल तंत्र-मंत्र और सिद्धि के लिए जाना जाता था, पूर्व में माता ओटले पर विराजित थीं।

बिजासन माता मंदिर की स्थापना:
बिजासन माता मंदिर का निर्माण इंदौर के महाराजा शिवाजीराव होलकर ने 1760 में कराया था।

बिजासन माता मंदिर इंदौर

बिजासन माता मंदिर की विशेषता:
बिजासन माता को सौभाग्य और पुत्र देने वाली माता माना जाता है। इसके चलते विवाह के बाद यहां आस पास के ही नहीं बल्कि देश भर से नवयुगल माता के दर्शन और पूजन के लिए आते हैं। बताया जाता है कि आल्हाऊदल ने भी मांडू के राजा को परास्त करने के लिए माता से मन्नत मांगी थी।

बिजासन माता मंदिर वास्तुकला:
माता साधारण मिट्टी, पत्थर के ओटले पर विराजमान है , अब मंदिर का निर्मल अच्छा हो गया है, यहाँ पर काफी मात्रा में लोग माता के दर्शन करने आते है।
मंदिर का विकास समय-समय पर शासन के विभिन्ना योजनाओं के तहत किया जा रहा है, विकास कार्य के चलते मंदिर के सौंदर्यीकरण का काम कराया जा रहा है जिससे मंदिर और बड़ा हो सके ताकि यहाँ पर आने वाले पर्यटन को कोई तकलीफ न हो । मंदिर का विकास कार्य अब भी जारी है।

मंदिर से जुड़े महत्पूर्ण आयोजन :
चैत्र और शारदीय नवरात्रि में मंदिर में मेला लगता है। यहाँ अनुमान लगया जाता है की नवरात्रि के दौरान यहां देशभर से लगभग 3 लाख से ऊपर श्रद्धालु दर्शन और पूजन के लिए आते हैं।

बिजासन माता मंदिर जाने के साधन:
इंदौर रेलवे स्टेशन से दूरी : शहर के पश्चिम क्षेत्र में स्थित मंदिर रेलवे स्टेशन से 9.8 किलोमीटर की दूरी पर है। यहां पहुंचने में करीब 27 मिनट का समय लगता है।
यहाँ पर आप पर्सनल 2 वीलर और 4 वीलर से जा सकते है, बिजासन माता मंदिर से हवा अड्डा साफ दिखाई देता है,
माता के मंदिर में चढ़ाने के लिए प्रसाद आपको वही पर लगी दुखान से मिल जताती है , यहाँ पर खाने का ज्यादा प्रबंध नहीं है इस लिए यदि आप 3 से 4 घण्टे रुकने के लिए जाये तो अपने साथ कुछ नास्ता लेकर जाये.

अधिक जानकारी के लिए आप लिंक पर क्लिक करे : https://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/indore-bijasan-mata-temple-indore-1326388

बिजासन माता टेकरी पर एक तालाब भी है जहा पर लोग तालाब के किनारे खड़े होकर तालाब में जो मछली है उन्हें दाना देते है और तालाब का लूफ लेते है

**********************************************

Address: Devi Ahillyabai Holkar Airport Area,

Indore, Madhya Pradesh 453112
Contact :Click Here

**********************************************

Add Comment